नई दिल्ली. भाजपा ने मध्यप्रदेश चुनाव के लिए अपनी पहली लिस्ट जारी कर दी है. इस लिस्ट में 177 उम्मीदवारों के नाम घोषित किए गए हैं. इसी लिस्ट में कई नए चेहरो को स्थान दी गई है. इन्हीं में से एक हैं राकेश गिरी. राकेश गिरी को टीकमगढ़ विधानसभा सीट से बीजेपी ने अपना प्रत्याशी बनाया है. इससे पहले राकेश टीकमगढ़ नगर पालिका अध्यक्ष रह चुके हैं. राकेश गिरी जनता को ही सबसे बड़ा कर्ताधर्ता मानते हैं  उनका कहना है कि वह नहीं बल्कि उनके एरिया की जनता ही यह चुनाव लड़ रही है, वह केवल एक चेहरा हैं.

मैं केवल चेहरा मात्र

न्यूजट्रैक से वार्ता में राकेश गिरी ने बोला कि वह कमल का फूल की चुनाव लड़ रहा है, वह तो केवल चेहरा मात्र हैं. उन्होंने खुद को पार्टी का मात्र एक निमित्त बताया. उन्होंने बोला कि एरिया की जनता ही उनके लिए सबकुछ है  नगर पालिका अध्यक्ष रहते हुए उन्होंने जिस तरह से एरिया के लिए कामकिया है, चुनाव जीतने के बाद उसे  बढ़ाएंगे. टीकमगढ़ विधानसभा एरिया को सुंदर, स्वच्छ स्वस्थ बनाना ही उनका लक्ष्य है.

किसानों को मिलेगा भरपूर पानी

बुंदेलखण्ड में सूखे की समस्या को लेकर राकेश गिरी ने बोला कि विधायक बनने के बाद उनका पहला काम टीकमगढ़ विधानसभा एरिया में पानी की समस्या को दूर करना होगा. इसके लिए बड़ागांव धसान नदी को लेकर धसान डायवर्जन योजना पर फोकस किया जाएगा. साथ ही एरिया में मौजूद तालाबों पर स्टॉक डैम बनाए जाएंगे, जिससे किसानों को भरपूर पानी मिल सके  फसलें बेहतर हों. गिरी ने बोला कि इसके अतिरिक्त पेयजल के लिए भी नल योजना चलाई जा रही है. हर घर में नल के जरिए पानी पहुंचाया जाएगा.

टीकमगढ़ में खुलेगा मेडिकल कॉलेज

राकेश गिरी ने एजुकेशन को लेकर अपना एजेंडा साफ करते हुए बोला कि वह चाहते हैं कि एरिया का हर युवा शिक्षित हो. उन्होंने बोला कि टीकमगढ़ में मेडिकल कॉलेज की मांग बहुत ज्यादा समय से की जा रही है. अगर वह चुनाव जीतते हैं, तो एरिया में मेडिकल कॉलेज के लिए वह CM से बात करेंगे  अगले पांच वर्षों में एरिया के लोगों को मेडिकल कॉलेज की सुविधा दिलाने का पूरा कोशिश करेंगे.

शिक्षा ही दिला सकती है सफलता

राकेश गिरी ने एजुकेशन को ही सफलता की कुंजी बताया. उन्होंने बोला कि एजुकेशन ही वह सीढ़ी है, जिस पर चढ़कर इंसान पास हो सकता है. उन्होंने युवाओं को दिए अपने संदेश में बोला कि वे ​बेहतर एजुकेशन हासिल करें, ताकि अपने भविष्य को उज्जवल बना सकें. राकेश गिरी ने बोला जब युवा शिक्षित होंगे, तभी वह रोजगार प्राप्त कर पाएंगे  उनकी जीवनशैली बदलेगी. उन्होंने बोला कि उनका पूरा ध्यान ​ग्रामीण अंचलों में एजुकेशन  सेहत सुविधाएं मुहैया कराने पर होगा. इसमें वह राज्य गवर्नमेंट से लेकर जनता तक का योगदान लेंगे  इस अभियान को पास बनाकर रहेंगे.