हाल ही में एक क्राइम का मामला कानपुर से सामने आया है जहाँ 4 इंजीनियरिंग विद्यार्थियों द्वारा एक 11वीं की छात्रा से कथित तौर पर गैंगरेप किया गया है  गैंगरेप करने के बाद जो हुआ वह उससे भी भयावह रहा है जी हाँ, इस मामले में यह आरोप हैं कि विद्यार्थियों ने पीड़िता को पहले अपनी दरिंदगी का शिकार बनाया  फिर उसके बाद उसे कानपुर बाबूपुरवा पुलिस स्टेशन के पास बेसुध हालत में छोड़कर भाग गए वहीं इस मामले में अब पुलिस ने बात करते हुए बोला कि, ”पीड़िता नाबालिग है  पीड़िता के पिता पुलिस इंस्पेक्टर हैं

उन्होंने अनुराग यादव  उसके तीन दोस्तों जैकी, शुभम  अभिषेक के विरूद्ध शिकायत दर्ज कराई है  यह चारों ही अलग-अलग कॉलेजों में बीटेक की पढ़ाई कर रहे हैं ” वहीं इस मामले में मिली जानकारी के अनुसार सभी आरोपियों से पूछताछ की जा रही है लेकिन अभी तक किसी ने भी अपना मुँह नहीं खोला है वहीं इस मामले में पुलिस के मुताबिक, पीड़िता की आरोपियों में से एक से जान पहचान थी  वह लड़की को झांसा देकर काकादेव इलाके स्थित एक फ्लैट पर ले गया, जहां उसका दुष्कर्म हुआ

उस दौरान लड़की के प्राइवेट भाग से लगातार खून निकल रहा था लेकिन दरिंदगी के दरिंदों को कुछ समझ नहीं आया  वह उसके साथ हवस करते रहे वहीं अंत में आरोपी उसे कार में बैठाकर लाए बाबूपुरवा पुलिस स्टेशन के पास छोड़ गए वहीं जब पीड़िता को होश आया  उसने वारदात के बारे में पुलिस को जानकारी दी फिल्हाल आरोपियों को अरैस्ट नहीं किया गया है