SSC Exam 2017 Paper Leak Case: 2017 एसएससी पेपर लीक मामले में आज सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई हुई. इस मामले में सुनवाई करते हुए उच्चतम न्यायालय एसएससी परीक्षा 2017 को निरस्त करने के पक्ष में दिखा. कोर्ट ने कहा कि फरवरी 2018 में आयोजित ऑनलाइन मुख्य परीक्षा के पेपर लीक मामले में पेपर लीक होने का लाभ पाने वाले सभी उम्मीदवार और लोगों को पकड़ना संभव नहीं है. बता दें कि एसएससी सीजीएल और एसएससी 10+2 पेपर लीक के मामले में सीबीआई ने 23 मई 2018 को कुल 17 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया था. जिसमें से 10 सिफी कंपनी के कर्मचारी थे.

इससे पहले सुप्रीम कोर्ट ने 31 अगस्त 2018 को SSC Exam 2017 के परिणाम पर रोक लगा दी थी. 31 अगस्त 2018 को कोर्ट ने कहा था कि एसएसस परीक्षा में चीटिंग करके पास होने वालों को वो सरकारी सेवाओं में शामिल होने की अनुमति नहीं दे सकते हैं. कोर्ट ने 31 अगस्त 2018 को कर्मचारी चयन आयोग द्वारा आयोजित संयुक्त स्नातक स्तर परीक्षा (CGL 2017) और एसएससी संयुक्त वरिष्ठ माध्यमिक स्तर परीक्षा 2017 (CHSL) के परिणाम पररोक लगा दी थी.

एसएससी के द्वारा 17 और 21 फरवरी, 2018 के बीच एसएससी स्नातक स्तर परीक्षा (CGL 2017) और एसएससी संयुक्त वरिष्ठ माध्यमिक स्तर परीक्षा 2017 (CHSL) की परीक्षाएं कराई गई थीं. लेकिन परीक्षा पेपर लीक के खुलासे के बाद हजारों उम्मीदवारों ने सीबीआई जांच की मांग को लेकर सड़कों पर प्रदर्शन किया था. जिसके बाद मार्च 2018 में मोदी सरकार ने सीबीआई जांच के आदेश दिये थे. SSC-SCAM  ssc scam

सीबीआई ने इस मामले में सीफी के 10 कर्मचारियों समेत कुल 17 कर्मचारियों के खिलाफ आपराधिक धाराओं में मामला दर्ज किया था. वहीं सीबीआई ने इसी महीने की शुरूआत में एक अधिकारी को गिरफ्तार किया था. जिसे इस पूरे मामले का मास्टरमाइंड बताया जा रहा था

ssc scam