तोक्यो। उत्तर कोरिया के तानाशाह नेता किम जोंग व उनका परमाणु हथियार से प्रेम पूरी संसार के लिए एक चिंता का विषय बन चूका है। अमेरिका समेत संसार के कई अन्य राष्ट्र किम जोंग से परमाणु हथियारों के निर्माण पर रोक लगाने के लिए अनुरोध कर चुके है लेकिन किम जोंग ने इसमें से किसी की भी बात नहीं मानी। इस वजह से अमेरिका व संयुक्त देश ने भी कई मामलों में उत्तर कोरिया पर कई तरह के प्रतिबन्ध लगा दिए है।

इन प्रतिबंधों के लगने के बाद अब उत्तर कोरिया को भी बहुत ज्यादा नुकसान झेलना पड़ रहा है व वो अब इन राष्ट्रों से अपने ऊपर लगे प्रतिबंधों को हटाने की गुहार भी कर रहा है। इस मामले में अब संयुक्त देश के पूर्व महासचिव बान की मून ने उत्तर कोरिया को एक स्पष्ट समझाइश व चुनौती भी दी है जिसे पूरा कर पाना किम जोंग के लिए बेहद कठिन भरा कार्य साबित होगा। दरअसल यूएन के पूर्व महासचिव बान की मून ने हाल ही में उत्तर कोरिया पर लगे प्रतिबंधों को लेकर दिए एक बयान में बोलाहै कि अगर उत्तर कोरिया अपने ऊपर लगे प्रतिबंधों को हटाना चाहता है तो उसे अपने राष्ट्र के सभी परमाणु हथियार नष्ट करने होंगे व साथ ही नए परमाणु हथियारों का निर्माण भी बंद करना होगा।

बान की मून ने इस दौरान यह भी बोला कि जब उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग परमाणु निरस्त्रीकरण की दिशा में ठोस कदम उठाएंगे व अंतर्राष्ट्रीय समुदाय का भरोसा हासिल करें करेंगे तभी उनके ऊपर लगे प्रतिबन्ध हट सकेंगे वरना उहने ऐसे ही अपना गुजारा करना होगा।