कोलंबो पिछले कुछ दिनों से श्रीलंका की पॉलिटिक्स में भूचाल सा आया हुआ है इस राष्ट्र में 26 अक्टूबर को यानी तक़रीबन डेढ़ महीने पहले ही यहाँ के राष्ट्रपति मैत्रीपाला सिरिसेना ने रानिल विक्रमसिंघे को आकस्मित से पीएम पद से हटा कर उनकी स्थान महिंदा राजपक्षे को नियुक्त कर दिया था इसके बाद से ही श्रीलंका में इस मामले को लेकर बहुत टकराव  बयान बाजी चल रही है अब इस मामले में गुस्साए पूर्व पीएम रानिल विक्रमसिंघे ने राष्ट्रपति मैत्रीपाला सिरिसेना की तुलना हिटलर से कर दी है

दरअसल अपदस्थ पीएम रानिल विक्रमसिंघे ने कल (मंगलवार) रात इस मामले में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस आयोजित की थी इस दौरान उन्होंने राष्ट्रपति मैत्रीपाला सिरिसेना द्वारा उन्हें हटाए जाने के निर्णय की कड़ी निंदा करते हुए उनकी तुलना हिटलर से कर दी राष्ट्रपति मैत्रीपाला सिरिसेना ने इस दौरान यह भी बोला कि उन्हें आगामी आकस्मिक चुनावों का कोई भय नहीं है लेकिन वे राष्ट्र में “तानाशाहों” के जनमत संग्रह के प्रयोग के विरोध में है

आपको बता दें कि 26 अक्टूबर को जब से राष्ट्रपति मैत्रीपाला सिरिसेना ने अपदस्थ पीएम रानिल विक्रमसिंघे को आकस्मित उनके पद से हटा के उनकी स्थान महिंदा राजपक्षे को नियुक्त कर दिया था तब से ही यहाँ पर राजनीतिक संकट बना हुआ है अभी हाल ही में इस मामले में श्रीलंका की एक उच्च न्यायालय ने एक बड़ा निर्णय सुनते हुए राष्ट्र के नए पीएम महिंदा राजपक्षे को बतौर पीएम कार्य करने से रोक दिया है