हाल ही में आई एक  क्राइम की समाचार ने सभी को दंग कर दिया है वहीं खबरों के अनुसार यह मामला मध्यप्रदेश के पिपरिया का है जहाँ एक पांच वर्ष की बच्ची से दुष्कर्म के बाद उसकी मर्डर कर दी गई है जी हाँ, इस मामले को 30 अक्टूबर की शाम का बताया जा रहा है खबरों के अनुसार उस दिन उसके घर के बाहर से दीपक किरार चौहान नामक युवक ने उसका अपहरण कर लिया था आरोपी ने उसी दिन पहले मासूम को अपनी दरिंदगी का शिकार बनाया  फिर दुपट्टे से गला घोंटकर उसकी मर्डर कर दी वहीं इस घटना के उजागर होने के बाद पूरे इलाके में तनाव का माहौल फ़ैल गया है  सभी लोग आरोपी को फांसी देने की मांग कर रहे हैं

आप सभी को बता दें कि इस मामले में अधिवक्ता संघ ने बोला है कि कोई भी आरोपी की पैरवी नहीं करेगा आप सभी को पता ही होगा कि बच्ची के अपहरण के चार दिन बाद भी जब कोई सुराग नहीं मिला, तो बड़ी संख्या में स्त्रियों ने मुख्य चौराहे पर चक्काजाम किया था  इसी कारण सख्ती से जांच की गई  आरोपी को पकड़ा गया

वहीं यह भी बताया जा रहा है कि आज से लगभग 2 वर्ष पहले आरोपी को बच्चे के अपहरण के मामले में पुलिस ने अरैस्ट किया था, लेकिन तत्कालीन थाना प्रभारी लवकुश शर्मा ने सख्त कार्यवाही न करते हुए सिर्फ आर्म्स एक्ट के तहत मामलादर्ज किया यदि उस वक़्त आरोपी के विरूद्ध कड़ी कार्रवाई की गई होती, तो आज शायद यह मासूम उसकी हवस का शिकार न बनती  बच जाती