सिंगापुरः सिंगापुर में दो भारतवंशी विद्यार्थियों ने पौधों को पानी देने वाला एक स्वचालित उपकरण विकसित किया है इस उपकरण के जरिए आप अपनी गैर हाजिरी में भी पौधों को पानी दे सकते हैंयहां ग्लोबल भारतीय इंटरनेशनल स्कूल में आठवीं कक्षा में पढ़ने वाले प्रत्यूष बंसल  एकास सिंह गुलाटी ने बताया कि जब वे छुट्टियों से वापस आते थे तो उन्हें अपने मुरझाए हुए या मृत पौधों को देखकर बहुत बुरा लगता था इसके बाद उन्हें इस समस्या का हल तलाशने की ठानी

सिंगापुर में जन्में विद्यार्थियों ने बोला कि उन्होंने हिंदुस्तान में अपने दादा-दादी के घर पर अपने इस विचार का परीक्षण किया  भूगोल के कारण इस उपकरण की दक्षता पर काफी प्रभाव नहीं पड़ता हैबंसल ने पीटीआई-भाषा को बताया कि उन्होंने नमी (मॉइस्चर) सेंसर के साथ आर्द्रतामापी (हाइग्रोमीटर) संसूचक (डिक्टेक्टर) का प्रयोग किया जिसे दो लीटर के पानी के टैंक  जल पंप मोटर से जोड़ा गया

उन्होंने बताया कि पानी की टंकी भरने के बाद, कनेक्टिंग पाइप को बर्तन में छोड़ दें इसके बाद नमी सेंसर यह पता लगा लेगा कि पानी की कब आवश्यकता है मोटर टैंक से पानी खींच लेगी  पौधों को पानी दे देगी दोनों विद्यार्थियों को आईआईटी खगड़पुर में ‘युवा नवोन्मेष कार्यक्रम’ में अपने उपकरण का प्रदर्शन करने के लिए चयनित किया गया है