फेसबुक के स्वामित्व वाला व्हाट्सएप पहले से ही फेक न्यूज को लेकर आलोचनाएं झेल रहा है. फेक न्यूज पर लगाम लगाने के लिए व्हाट्सएप ने कई विशेषता भी जारी किए हैं, लेकिन इसी बीच व्हाट्सएप की सुरक्षा को लेकर बड़ी समाचार आई है. इजराइयल नेशनल सिक्योरिटी अथॉरिटी ने व्हाट्सएप की सुरक्षा को लेकर अलर्ट भी जारी किया है. अथॉरिटी ने यह अलर्ट एक रिपोर्ट को लेकर जारी की जिसमें दावा किया गया है कि एक नए तरीके से व्हाट्सएप के अकाउंट को हैक किया जा सकता है.

जेडीनेट की रिपोर्ट के मुताबिक मोबाइल सेवा प्रदाता की एक सेवा का प्रयोग के जरिए व्हाट्सएप हैक किया जा सकता है, हालांकि रिपोर्ट में यह भी बोला गया है कि वॉयसमेल प्रयोग करने वाले यूजर्स का ही व्हाट्सएप अकाउंट हैक होगा. रिपोर्ट में लोगों को आगाह करते हुए बोला गया है कि जिन लोगों के पासवर्ड 1234 या 0000 हैं, वे अपना पासवर्ड तुरंत बदल लें. बता दें कि वॉयस मेल के जरिए ऑडियो मैसेज भेजे जाते हैं  इसके लिए एक पासवर्ड की आवश्यकता होती है. रिपोर्ट के मुताबिक हैकर्स आपके नंबर से दूसरा व्हाट्सएप अकाउंट चला सकते हैं, वह भी बिना वेरिफिकेशन के.
आगे पढ़ें

हैक करने का उपाय क्या है?

दरअसल जब भी आप व्हाट्सएप इंस्टॉल करते हैं तो कंपनी वेरिफिकेशन के लिए मैसेज के जरिए एक कोड भेजती है, लेकिन हैकर्स का दावा है कि यह व्हाट्सएप अकाउंट यूजर्स पास में नहीं है तो वेरिफिकेशन मैसेज को रोका जा सकता है औ इस तरह दूसरे फोन में भी आपके नंबर से व्हाट्सएप चल सकता है. वहीं मैसेज फेल होने पर व्हाट्सएप वॉयस ऑथेंटिकेशन के लिए कॉल करता है. इसके लिए व्हाट्सएप मोबाइल नंबर पर कॉल करता है वन टाइम पासवर्ड बताता है. ऐसे में यदि उपभोक्ता फोन का जवाब नहीं देता है तो कोड वॉयसमेल अकाउंट में चला जाता है  इसी वॉयसमेल का लाभ उठाकर हैकर्स आपके व्हाट्सएप को हैक कर सकते हैं, क्योंकि अधिकांशलोगों के फोन के वॉयसमेल अकाउंट का पिन 0000 या 1234 ही होता है.
वैसे तो कंपनी ने बोला है कि जल्द ही इस बग को फिक्स कर लिया जाएगा, लेकिन आप भी अपने वॉयसमेल का पासवर्ड बदलकर इस हैकिंग से बच सकते हैं. हालांकि इस तरीके से केवल व्हाट्सएप ही नहीं, बल्कि अन्य सोशल मीडिया ऐप भी हैक हो सकते हैं. यहां तक कि गूगल, ट्विटर, फेसबुक  जीमेल को भी हैक किया जा सकता है